ताजा खबरें
  • कुल कोरोना मामले: 1,73,763 | मौतें: 4,980 | केरला: 1,088 | महाराष्ट्र: 59,546 | कर्नाटक: 2,533 | तेलंगाना: 2,256| गुजरात:16,281 | राजस्थान: 8,067 | उत्तर प्रदेश: 7,170 | दिल्ली: 16,281 | पंजाब: 2,045 | तमिलनाडु: 19,372 | हरयाणा: 1,504 | मध्य प्रदेश: 7,453
  • वेस्ट बंगाल: 4,536 | आंध्र प्रदेश: 3,251 | लद्दाख: 73| बिहार: 3,296 | चंडीगढ़: 288 | अंडमान और निकोबार: 33 | छत्तीसगढ़: 399 | उत्तराखंड: 500 | गोवा: 69 | ओडिशा: 1,660 | हिमाचल प्रदेश: 276 | मिजोरम: 1 | पांडिचेरी: 51 | मणिपुर: 55

राजस्थान सरकार पर मायावती का निशाना, कहा किराया मांगना कंगाली और अमानवीयता का प्रदर्शन

Publish Date: 22 May, 2020 02:17 PM   |   Shivalik  

कोटा से उत्तर प्रदेश लाए गए छात्रों के लिए राजस्थान सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार से 36 लाख रुपये किराया मांगा है. इसे लेकर बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने राजस्थान कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा और कहा कि यह कदम कंगाली व अमानवीयता को प्रदर्शित करता है.

मायावती ने ट्विटर के माध्यम से कहा, “राजस्थान की कांग्रेसी सरकार द्वारा कोटा से करीब 12000 युवा-युवतियों को वापस उनके घर भेजने पर हुए खर्च के रूप में उत्तर प्रदेश सरकार से 36.36 लाख रुपये और देने की जो मांग की है वह उसकी कंगाली व अमानवीयता को प्रदर्शित करता है. दो पड़ोसी राज्यों के बीच ऐसी घिनौनी राजनीति अति-दुख:द है.” 
उन्होंने आगे कहा, “लेकिन कांग्रेसी राजस्थान सरकार एक तरफ कोटा से उप्र के छात्रों को अपनी कुछ बसों से वापस भेजने के लिए मनमाना किराया वसूल रही है, तो दूसरी तरफ अब प्रवासी मजदूरों को उप्र में उनके घर भेजने के लिए बसों की बात करके राजनीति का खेल खेल रही है, यह कितना उचित व कितना मानवीय है.”